इस टैक्स सीजन में अपने आपको ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचाये:

इस टैक्स सीजन में अपने आपको ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचाये:

मार्च के महीने में जब हम लोग अपने टैक्स फाइल करने में लगे होते है, तब हैकर्स नए नए तरीके से धोखाधड़ी कर आम नागरिक को लूटने में लगे होते है |
फिशिंग एक ऐसा तरीका है जिसमे अधिकतर नागरिक, हैकर्स की धोखाधड़ी का शिकार होते है. 
जैसे की हो सकता है आपको ईमेल आये जिसमे लिखा हो की आपका पिछले साल का रिफंड प्रोसेस नहीं हुआ है और रिफंड पाने के लिए आपसे किसी लिंक पर क्लिक करवाया जाता है जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करते है इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की वेबसाइट से मिलती जुलती वेबसाइट ओपन होती है और आपसे फॉर्म भरने के लिए कहा जाता है, फॉर्म में बैंक खाते की जानकारी,  डेबिट कार्ड की जानकारी, आपसे ली जाती है और खाते से रूपये निकल लिए जाते है|

फिशिंग सैंपल ईमेल इस पोस्ट के निचे दिया गया है


ऐसे ही व्हाट्सप्प मसेज के द्वारा भी लिंक्स भेजी जाती है, जिसमे कहा जाता है की सरकार ने कोई नई योजना निकली है, योजना का लाभ लेने के लिए किसी लिंक को क्लिक करने के लिए कहा जाता है और आपसे जानकारी लेकर धोखाधड़ी की जाती है|
फिशिंग से बचने के लिए आपको थोड़ासा ध्यान रखने की जरुरत है बस, जैसे की किसी भी ईमेल के सेन्डर को पहले वेरीफाई करे, अगर आपसे आपके डेबिट या क्रेडिट कार्ड की डिटेल्स मांगी जाती है तो ना दे, आपसे आपका मोबाइल नंबर, जन्म दिनांक मांगी जाती है तो ना दे.
सरकार की तरफ से अगर कोई योजना लायी जाती है तो अधिकृत वेबसाइट से उसकी जानकारी ले. सरकार की अधिकृत वेबसाइट्स का domain post fix .gov.in होता है|

अगर आपको इनकम टैक्स से सम्बंधित कोई भी फिशिंग ईमेल आता है तो कृपया ईमेल द्वारा निम्नलिखित पते पर सूचित करे

webmanager@incometax.gov.in, and incident@cert-in.org.in